वो 15 क्रिकेटर्स जिन्होंने पहले क्रिकेट खेला और फिर नेता बन गए, नंबर 1 है भारत की शान

खेल खिलाड़ी के लिए सर्वोपरि है। एक खिलाड़ी पूरी उम्र के लिए खेल से जुड़ा रहना चाहता है। दुनिया के सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले खेल क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने क्रिकेट से संन्यास लेने के बावजूद खुद को किसी न किसी तरह से खेल से जोड़े रखा। वर्तमान समय में भी, कई खिलाड़ी जो क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद कमेंटेटर, कोच के रूप में इस खेल से जुड़े हैं।

इसके विपरीत, कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद खुद को खेल से पूरी तरह से अलग कर लिया और कुछ अन्य पेशे अपना लिए। आज इस लेख में, हम आपको कुछ ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने क्रिकेट के बाद राजनीति में प्रवेश करने के बाद अपने नए करियर की शुरुआत की। आइए नजर डालते हैं इन खिलाड़ियों के बारे में-

15- विनोद कांबली

कांबली ने 2009 में लोक भारती पार्टी से महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव लड़ा था.

14- श्रीसंत

भारतीय गेंदबाज ने केरल में भाजपा के टिकट पर केरल में 2016 का विधानसभा चुनाव लड़ा। इस चुनाव में श्रीसंत की हार हुई थी।

12- तिलकरत्ने दिलशान

श्रीलंका के इस पूर्व आक्रामक बल्लेबाज ने हाल ही में श्रीलंका की श्रीलंका की पीपुल्स पार्टी ज्वाइन की है. खबर मिली है कि दिलशान इस पार्टी से कालातुरा जिले से चुनाव भी लड़ेंगे.

11- रणतुंगा

श्रीलंका के लिए 269 वनडे और 93 टेस्ट खेलने वाले इस खिलाड़ी ने 2010 में श्रीलंका की यूनाइटेड नेशनल पार्टी से चुनाव लड़ा और यह चुनाव भी जीता। यह श्रीलंकाई स्टार बल्लेबाज 26 अक्टूबर 2018 तक देश का पेट्रोलियम मंत्री भी था। देश में चल रहे राजनीतिक झगड़े के कारण उसे जेल भी जाना पड़ा था।

10- सनथ जयसूर्या

जयसूर्या 2010 में चुनाव लड़े और सांसद बने। श्रीलंकाई ऑलराउंडर को मातारा जिले से जबरदस्त समर्थन मिला। सांसद बनने के बाद भी, जयसूर्या ने एक साल तक क्रिकेट खेला।

9- हसन तिलकरत्ने

श्रीलंका के इस खिलाड़ी ने यूनाइटेड नेशनल पार्टी में एंट्री ली। हसन कई पार्टी कार्यों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

8- मंसूर अली खान पटौदी

क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद मंसूर अली खान पटौदी ने विशाल हरियाणा पार्टी से 1971 में और फिर 1991 में कांग्रेस की टिकट से भोपाल से चुनाव लड़े और हार गए.

7- चेतन चौहान

भारतीय टीम के इस पूर्व खिलाड़ी ने 1991 और 1998 में उत्तर प्रदेश के अमरोहा से लोकसभा चुनाव लड़ा और जीता। चेतन अब अमरोहा से विधायक और यूपी में बीजेपी सरकार में खेल मंत्री हैं।

6- कीर्ति आज़ाद

कीर्ति आज़ाद ने भाजपा की तरफ से बिहार के दरभंगा से लोकसभा चुनाव जीता. फ़िलहाल ये दरभंगा के लोकसभा सांसद हैं.

5- नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह दो बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं और वर्तमान में कांग्रेस पार्टी से पंजाब में कैबिनेट मंत्री हैं।

4- मनोज प्रभाकर

मनोज प्रभाकर ने 1998 में नई दिल्ली लोकसभा सीट से कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ा था जिसमे इनकी हार हुई थी.

3- सरफराज नवाज़

पाकिस्तान के लिए 55 टेस्ट और 45 वनडे खेलने वाले सरफराज ने 1985 के आम चुनावों में निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ा और पंजाब प्रांत से चुनाव जीता। खिलाड़ी वर्तमान में यूके में रह रहा है।

2- इमरान खान

इमरान खान ने 1996 में अपनी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इस्लाम का गठन किया। उन्होंने 2002 में पहली बार चुनाव जीता और देश के प्रधानमंत्री बने। यह दुनिया में पहली बार है जब कोई क्रिकेटर राजनीति में सर्वोच्च स्थान पर पहुंचा है।

1- मोहम्मद अज़हरुद्दीन

क्रिकेट में भारत के लिए खेलते हुए कई विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले इस खिलाड़ी ने 2009 में कांग्रेस की ओर से मुरादाबाद में लोकसभा चुनाव जीता था।