7 साल बाद क्रिकेट में होगी दिग्गज खिलाडी की वापसी, फिक्सिंग के कारण लगा था बैन

मई 2013 में दिल्ली पुलिस ने मैच फिक्सिंग के आरोप में श्रीसंत और राजस्थान रॉयल्स के दो साथी खिलाड़ियों अजीत चंडिला और अंकित छवन को गिरफ्तार किया था।बीसीसीआई ने इसके बाद तीनों खिलाड़ियों को बैन कर दिया था। हालांकि, इन आरोपों के खिलाफ श्रीसंत ने लंबी लड़ाई और साल 2015 में विशेष अदालत ने उन्हें आरोपों से बरी कर दिया था।

श्रीसंत की नई लुक को देखकर लोग बोले- अब पंगा नहीं लेंगे भज्जी - people talk  about sreesanth new look bhajji will be scared now - Punjab Kesari

इसके बाद साल 2018 में केरल हाई कोर्ट ने उन पर लगे अजीवन प्रतिबंध को खत्म किया। लेकिन 2019 में सुप्रीम कोर्ट ने उनके अपराध को बरकरार रखा लेकिन बीसीसीआई को उसकी सजा कम करने को कहा। बाद में बोर्ड ने उनपर लगे आजीवन प्रतिबंध को सात साल तक कम कर दिया था जो सितंबर 2020 में खत्म हो जाएगा।

B'day SPL: श्रीसंत के दामन पर दाग जरुर लगा, लेकिन खिलाड़ी दमदार थे! - happy  birthday s sreesanth indian cricket team

तेज गेंदबाज एस.श्रीसंत अगले रणजी सीजन में केरल की तरफ से खेलते नजर आ सकते हैं। उन्हें केरल क्रिकेट एसोसिएशन (केसीए) ने टीम में चुनने का फैसला लिया है। एसोसिएशन का कहना है कि अगर श्रीसंत अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो वे सितंबर में खेलते नजर आ सकते हैं।

S Sreesanth did not pick MS Dhoni his all time Indian favorite captain he  selected Kapil Dev

श्रीसंत ने कोच्चि में कहा कि मैं केरल क्रिकेट एसोसिएशन का कर्जदार हूं कि उन्होंने मुझे एक मौका दिया। मैं अपनी फिटनेस साबित करूंगा ताकि मैदान पर उतर सकूं। हम सारे विवादों को भूलने का वक्त आ गया है।